पशुओं को साइलेज खिलाने के लिए किन खास बातों पर ध्यान देने की ज़रूरत होती है?

Share:
  • साइलेज को दूध दुहने के बाद खिलाना चाहिए ताकि दूध में साइलेज की गंध की मात्रा में कमी की जा सके |
  • पशुओं की नाद में डाली गई साइलेज के बचे कुचे हिस्से को हर बार हटाकर साफ कर देना चाहिए |
  • चूंकि साइलेज की पूरी मात्रा पचनीय होती है, लिहाजा इसे भूसे के साथ मिलाकर खिलाने से भूसे के पचने की क्षमता भी बढ़ जाती है |
  • गड्ढे के ऊपरी भागों और दीवारों के पास में अकसर फफूंदी लग जाती है | यह ध्यान रखें कि ऐसा साइलेज पशुओं को नहीं खिलाना चाहिए |
  • साइलेज बनाने के लिए जो यूरिया है उसको साफ पानी में और सही मात्रा के साथ बनाना चाहिए।
  • यूरिया के घोल का चारे के ऊपर समान रूप से छिड़काव करना चाहिए | पूरी तरह जब तैयार हो जाए तभी पशुओं को साइलेज खिलाएं।
Pashu Sahayak App - Smart App for Smart Dairy Farmer Click to download http://bit.ly/2GbBiex

No comments